Welcome to ATMA Purnea

Welcome to ATMA Purnea

About

आत्मा, पूर्णियाँ एक परिचय 

 राष्ट्रीयकृषि प्रौधोगिकी परियोजना का समापन  जून, 2005
 आत्मा का निबंधन  जून, 2006
 आत्मा शासी परिषद का गठन  जून, 200़6
 आत्मा के कार्यकारिणी समिति का गठन  जून, 2006
 आत्मा की गतिविधियों की शुरूआत  जून, 2006
 एस0 आर0 र्इ0 पी0  जनवरी,2007
 पूर्णियाँ जिला अन्तर्गत प्रखंडों की संख्या  14
   

भारत सरकार के अद्र्धसरकारी पत्रांक- 27(1)2003 – एन0ए0टी0पी0(टी0सी0) – एस0र्इ0 डब्लू0पी0ए0र्इ0दिनांक -20.04.2005 द्वारा केन्द्र प्रायोजित योजना ”स्पोर्ट टू एक्सटेंशन प्रोग्राम फार एक्सटेंशन रिफाम्र्स लागू की गर्इ है। उक्त पत्र में आलोक में कृषि   विभाग के पत्रांक-1799,दिनांक-31.05..2005 द्वारा राज्य के पूर्णियाँ सहित पन्द्रह जिलों में कृषि प्रौधोगिकी प्रबंध अभिकरण,(आत्मा),पूर्णियाँ स्थापित करने का राज्य सरकार ने निर्णय लिया है ।

आत्मा की कार्य प्रणाली

योजना बनाना तथा वित्तीय प्रक्रियाएँ :

आने वाले मौसम में की जानेवाली प्रसार तथा किसान प्रशिक्षण के लिए किसान सूचना तथा सलाहकार केन्द्र अपने ब्लाक की कार्य योजना एवं बजट तैयार करेगी । ये समन्वयकी योजनाओं सामरिक अनुसंधान एवं प्रसार योजना में उल्लेखित मुख्य विवशताओं तथा कमजोरियों का जरूर समाधान करें, यदि इनके लिए आत्मा द्वारा निधि दी गर्इ है । इसके अतिरिक्त आफिसर इन्चार्ज,ब्लाक स्तर के लिए प्रस्तावित प्रसार गतिविधियों के समन्वय के लिए तथा इन प्रस्तावों को किसान सूचना एवं सलाहकार केन्द्र से इन प्रस्तावों की अनुमति प्राप्त होने के बाद ये आत्मा को प्रस्तुत किए जाएगें । आफिसर इन्चार्ज एवं किसान सलाहकार समिति का अध्यक्ष संयुक्त रूप से इन प्रसार योजनाओं को आत्मा की शासी परिषद के अनुमोदन से पूर्व आत्मा की प्रबंध समिति तथा फार्म सूचना एवं सलाहकार समिति में कोर्इ मतभेद या सहमति नहीं होगी तो आत्मा की शासी परिषद द्वारा इसे सुलझाया जाएगा ।

एक बार जब ब्लाक कार्य योजना शासी परिषद द्वारा अनुमोदित कर दी जाएगी । तब आत्मा का परियोेजना निदेशक प्रत्येक ब्लाक के आफिसर इन्चार्ज को अनुमोदित करता है । प्रसार कार्यक्रमो को करने हेतु आवंटित बजट को चैक के द्वारा जारी करेगा । आफिसर इन्चार्ज बैंक खाता रखने तथा फार्म सलाहकार केन्द्र के प्रत्येक सदस्य को अनुमोदित प्रसार कार्यक्रम के क्रियान्वयन हेतु निधि का आवंटन करेगी । सभी बैंक आफिसर इन्चार्ज तथा फार्म सूचना तथा सलाहकार समिति के अध्यक्ष द्वारा संयुक्त रूप से जारह किए जाएगें । आफिसर इन्चार्ज सम्पूर्ण वित्तीय रिकार्ड को रखने जैसे- अनुमोदित प्रसार गतिविधियों पर व्यय की गर्इ राशि की रशीदें आदि के लिए जिम्मेवार होगा । यदि कोर्इ आफिसर इन्चार्ज सम्पूर्ण वित्तीय रिकार्ड को रखने जैसे- अनुमोदित प्रसार गतिविधियों पर व्यय की गर्इ राशि की रशीदें आदि के लिए जिम्मेवार होगा । यदि कोर्इ आफिसर इन्चार्ज सहमत प्रक्रिया के अनुसार वित्तीय तथा निष्पादन का रिकार्ड आत्मा को प्रस्तुत नहीं करेगा । तो निधि के प्रवाह को निलंबित किया जाएगा ।

कार्यवाही प्र्रक्रिया :

किसान सूचना एवं सलाहकार केन्द्र के सभी सदस्य अपने-अपने लाइन विभाग के ही निरंतर कर्मचारी रहेंगे। लेकिन वे सामरिक अनुसंधान एवं प्रसार योजना में डिजाइन चार मुख्य कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने में आने वाली रूकावटों को दूर करने तथा प्रसार कार्यक्रमों के समन्वय एवं क्रियान्वयन के लिए जिम्मेवार होंगे तथा फार्म सूचना एवं सलाहकार केन्द्र के सदस्यों को क्षेत्र प्रदर्शन लगाने,प्रशिक्षण शिविरों में कृषकों को शिक्षित करने,फील्ड दिवस बनाने तथा अन्य ग्रुप गतिविधियों के करने में सहायता करेंगे। जिले में कृषि अधिकारी ग्रामीण प्रसार कार्यकत्र्ता के दिन प्रतिदिन के कार्यों तथा कार्य संरचना एवं सलाहकार समिति से आने वाली रिपोर्ट एवं तकनीकी पर्यवेक्षणों का निरीक्षण करेगा । इस प्र्रस्तावित नये प्रबंध का उद्वेश्य एक एकीकृत या एकल निरीक्षण करेगा । इस प्रस्तावित नये प्रबंध का मुख्य उद्वेश्य एक एकीकृत या एकल खिड़की प्रसार प्रणाली की रचना करना है । जहाँ तक संभव होगा जिला एवं ब्लाक में विकास की गतिविधियों जो सरकार की योजनाओं के अन्तर्गत अर्धपोषित हैं का प्रदर्शन प्रसार स्पोर्ट तथा प्रौधोगिकी हस्तान्तरण में किया जाएगा। आनेवाले समय के लिए तथा ब्लाक कार्य योजना के क्रियान्वयन के लिए इन केन्द्रीय,राजकीय तथा जिला की निधि में से ज्यादा निधि का सीघा हस्तांतरण आत्मा को हो । वत्र्तमान समय में किसान सलाहकार समिति के साथ परार्मश करने फार्म सूचना एवं सलाहाकर केन्द्र निर्णय करेगी कि कहाँ पर विकास की गतिविधियों विशेषकर कृषि एवं उधान को ब्लाक स्तर पर चल रहे प्रसार कार्यक्रमों की स्पोर्ट में और ज्यादा प्रभावशाली ढंग से उपयोग किया जा सकता है ।

ब्लाक एवं फील्ड प्रसार गतिविधियों के लिए प्रस्तावित संरचना का जो नर्इ व्यवस्था में जिला स्तर पर प्रसार गतिविधियों के लिए आत्मा की विकेन्द्रीकरण प्रक्रिया को तामील की संगठनात्मक संरचना पहले पृष्ठ पर दिखार्इ गर्इ है। कार्यक्रमों के प्रभावशाली क्रियान्वयन की कुंजी ब्लाक के अंदर विनिर्दिष्ट एग्रो इकोलोजिकल के प्रसार कार्यक्रमों को उचित तालमेल देगी । यही ब्लाक स्तर की किसान संघों को सीधे रूप से ब्लाक स्तर पर की किसान संघों को सीधे रूप से ब्लाक स्तर पर किसान सलाहकार समिति में शमिल किया जा सकता है ।

Quick Links

PURNIA WEATHER
September 2021
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930